ये ईवीएम तीन स्तरीय सुरक्षा घेरे में कैद रहेगी। अब स्ट्रांग रूम की सील 3 दिसंबर को सुबह खोली जाएगी

0
58

इंदौर  ।    विधानसभा चुनाव संपन्न कराकर मतदान दलों का इंदौर के नेहरू स्टेडियम पहुंचने का सिलसिला शुक्रवार रात 8 बजे से शुरू हो गया था। रातभर ईवीएम स्ट्रांग रूम में जमा करने की प्रक्रिया चली। स्ट्रांग रूम की बिजली काट दी गई और दरवाजे सील कर उस पर भारत निर्वाचन आयोग की मुहर लगाई गई। सुबह साढ़े पांच बजे आखिरी स्ट्रांग रूम विधानसभा क्षेत्र इंदौर-पांच का सील किया गया।राजनीतिक पार्टियों के पदाधिकारियों की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम सील करने की प्रक्रिया की गई। इंदौर जिले के सभी नौ विधानसभा क्षेत्रों की ईवीएम नेहरू स्टेडियम में बनाए गए स्ट्रांग रूम में सील कर दी गई।तीन स्तरीय सुरक्षा घेरे में ईवीएम कैद रहेगी। अब स्ट्रांग रूम की सील 3 दिसंबर को सुबह ही खोली जाएगी। तब ही पता चलेगा कि जनता ने सत्ता की चाबी किसे सौंपी है। इससे पहले नेहरू स्टेडियम में मतदान दलों का आने का सिलसिला रातभर चलता रहा। गौतमपुरा व देपालपुर के दरोता गांव के दल सबसे आखिरी में पहुंचे।

राजनीतिक दल सीसीटीवी फुटेज से रख सकेंगे नजर

स्ट्रांग रूम के बाहर चारो तरफ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इन कैमरों की सहायता से 24 घंटे स्ट्रांग रूम की निगरानी की जाएगी। इसके अलावा पुलिस जवान भी लगातार सुरक्षा में मौजूद रहेंगे। सीसीटीवी कैमराें की फुटेज से राजनीतिक दल भी स्ट्रांग रूम पर नजर रख सकेंगे। इसकी सुविधा राजनीतिक दलों को दी गई है।

मतदान सामग्री जमा करने में हुई परेशानी

नेहरू स्टेडियम के स्ट्रांग रूम में मतदान सामग्री जमा करने की प्रक्रिया रात नौ बजे शुरू हो गई थी। कर्मचारियों को बैठाकर सामग्री उनकी टेबलो से ही ली जाना थी। दल स्टेडियम में पहुंचने के बाद सामग्री जमा कराने के लिए इंतजार करते रहे, लेकिन जमा करने वाले कर्मचारी नदारत होने से सामग्री जमा करने में देरी हुई। विधानसभा तीन, देपालपुर, महू की सामग्री देर रात तक जमा हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here