सूर्यकुमार को दूसरी बॉल पर मिला जीवनदान:अंपायर को फिर लगी बॉल, मैक्डरमॉट का मिसटाइम सिक्स 98 मीटर दूर गया; टॉप मोमेंट्स

0
297

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 5वें टी-20 में 6 रन से हराकर सीरीज 4-1 के अंतर से जीत ली। बेंगलुरु में टीम इंडिया के कप्तान सूर्यकुमार यादव को दूसरी बॉल पर जीवनदान मिला। अर्शदीप सिंह ने आखिरी ओवर में 9 रन डिफेंड किए, वहीं अंपायर को इस मुकाबले में भी बॉल लगी।

ऑस्ट्रेलिया के बेन मैक्डरमॉट का मिसटाइम सिक्स 98 मीटर दूर गया। आखिरी ओवर में अंपायर ने वाइड बॉल नहीं दी तो कंगारू टीम के कप्तान मैथ्यू वेड गुस्सा हो गए और टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मुकेश कुमार ने 2 गेंदों पर 2 विकेट लेकर मैच पलटा।

1. सूर्यकुमार को दूसरी बॉल पर मिला जीवनदान
टीम इंडिया के कप्तान सूर्यकुमार यादव को अपनी दूसरी ही बॉल पर जीवनदान मिल गया। पांचवें ओवर में बेन ड्वारशस ने ऑफ स्टंप के बाहर फुलर लेंथ बॉल फेंकी। सूर्यकुमार ड्राइव करने गए लेकिन बॉल टॉप एज लगकर पॉइंट की दिशा में चली गई। यहां बेन मैक्डरमॉट ने हवा में डाइव लगाकर कैच लेने की कोशिश की, बॉल उनके हाथ से टकराई लेकिन कैच पूरा नहीं हो सका।

जीवनदान के वक्त सूर्यकुमार 1 रन पर ही बैटिंग कर रहे थे। वह इसका फायदा नहीं उठा सके और 5 रन बनाकर ड्वारशस का ही शिकार हुए। उनका कैच भी मैक्डरमॉट ने ही पकड़ा।

सूर्यकुमार यादव को दूसरी ही बॉल पर जीवनदान मिला लेकिन वह 5 ही रन बनाकर आउट हो गए।
सूर्यकुमार यादव को दूसरी ही बॉल पर जीवनदान मिला लेकिन वह 5 ही रन बनाकर आउट हो गए।

2. मैक्डरमॉट का मिसटाइम सिक्स 98 मीटर दूर गया
ऑस्ट्रेलिया के बेन मैक्डरमॉट ने 98 मीटर लंबा सिक्स लगाया, लेकिन इस बॉल पर गेंद टॉप एज लेकर बाउंड्री के बाहर गई। चौथे ओवर की चौथी बॉल पर मैक्डरमॉट आगे निकलकर आए, आवेश खान ने शॉर्ट पिच गेंद फेंक दी। मैक्डरमॉट ने तेजी से बैट घूमाया और बॉल मिड-विकेट की दिशा में स्टेडियम की छत से टकराई।

मैक्डरमॉट का सिक्स 98 मीटर लंबा रहा, वह सीरीज का सबसे लंबा सिक्स लगाने से चूक गए। ये रिकॉर्ड भारत के रिंक सिंह के नाम है, जिन्होंने चौथे टी-20 में बेन ड्वारशस के खिलाफ 100 मीटर लंबा सिक्स लगाया था।

बेन मैक्डरमॉट ने 98 मीटर लंबा सिक्स लगाया।
बेन मैक्डरमॉट ने 98 मीटर लंबा सिक्स लगाया।

3. बिश्नोई को फिर पहले ओवर में सफलता
भारत के लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने एक बार फिर टीम को अपने स्पेल के पहले ही ओवर में सफलता दिलाई। इस बार उन्होंने अटैकिंग ओपनर ट्रैविस हेड को बोल्ड किया। 5वें ओवर की पांचवीं बॉल बिश्नोई ने गुड लेंथ पर फ्लिपर फेंकी, हेड बैकफुट पर पंच करने गए लेकिन गेंद स्टंप्स से जा लगी। हेड 28 रन बनाकर आउट हुए और ऑस्ट्रेलिया को 47 रन पर दूसरा झटका लगा।

बिश्नोई ने लगातार 5वें टी-20 में विकेट लिया, पांचों बार उन्होंने पहला विकेट बोल्ड के रूप में लिया और 4 बार उन्हें अपने स्पेल के पहले ही ओवर में विकेट मिल गया। चौथे टी-20 में उन्होंने जोश फिलिप और तीसरे में जोश इंग्लिस को बोल्ड किया। जबकि पहले और दूसरे टी-20 में उन्होंने मैथ्यू शॉर्ट को बोल्ड किया था। तीसरे टी-20 में इंग्लिस को उन्होंने अपने स्पेल के दूसरे ओवर में आउट किया था, बाकी चारों विकेट उन्हें पहले ओवर में मिले।

रवि बिश्नोई ने अपने स्पेल के पहले ही ओवर में ट्रैविस हेड को बोल्ड किया।
रवि बिश्नोई ने अपने स्पेल के पहले ही ओवर में ट्रैविस हेड को बोल्ड किया।

4. मुकेश कुमार ने 2 गेंदों पर 2 विकेट लेकर पलटा मैच
ऑस्ट्रेलिया को आखिरी 4 ओवर में 37 रन की जरूरत थी। यहां टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मुकेश कुमार 17वां ओवर फेंकने आए। शुरुआती 2 गेंदों पर उनके खिलाफ 5 रन बन गए लेकिन तीसरी और चौथी गेंद पर मुकेश ने 2 विकेट झटक लिए। आखिरी 2 गेंदों पर उन्होंने कोई रन नहीं दिया और अपना ओवर 5 रन देकर ही खत्म कर दिया। उन्होंने बेन ड्वारशस और मैथ्यू शॉर्ट को आउट किया।

मुकेश ने फिर 19वें ओवर में भी बेहतरीन गेंदबाजी की। यहां कंगारू टीम को 12 बॉल पर 17 रन की जरूरत थी। मुकेश ने ओवर में 7 ही रन दिए और आखिरी ओवर में भारत को डिफेंड करने के लिए 10 रन मिले। मुकेश ने जोश फिलिप, मैथ्यू शॉर्ट और बेन ड्वारशस के विकेट लिए।

मुकेश कुमार ने 17वें ओवर में लगातार गेंदों पर मैथ्यू शॉर्ट और बेन ड्वारशस को पवेलियन भेजा।
मुकेश कुमार ने 17वें ओवर में लगातार गेंदों पर मैथ्यू शॉर्ट और बेन ड्वारशस को पवेलियन भेजा।

5. आखिरी ओवर में वाइड नहीं देने पर गुस्सा हुए कंगारू कप्तान
ऑस्ट्रेलिया को पारी के 20वें ओवर में जीत के लिए 10 रन की जरूरत थी। ओवर की पहली गेंद अर्शदीप सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के कप्तान मैथ्यू वेड को बाउंसर फेंकी। इसे लेग अंपायर ने वाइड करार नहीं दिया, वेड ने अंपायर से वाइड देने की मांग की लेकिन अंपायर अपील को नकार दिया। इस पर वेड गुस्सा हुए और आउट होने के बाद भी नाराजगी जताते नजर आए।

मैथ्यू वेड आखिरी ओवर की शुरुआती 3 गेंदों पर कोई रन नहीं बना सके और 22 रन के स्कोर पर कैच आउट भी हो गए। उनके विकेट के बाद टीम को 3 गेंदों पर 10 रन की जरूरत थी, जिसे टीम हासिल नहीं कर सकी।

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान मैथ्यू वेड वाइड नहीं दिए जाने के बाद गुस्से में नजर आए। वह अपनी टीम को जीत भी नहीं दिला सके और 22 रन बनाकर आउट हो गए।
ऑस्ट्रेलिया के कप्तान मैथ्यू वेड वाइड नहीं दिए जाने के बाद गुस्से में नजर आए। वह अपनी टीम को जीत भी नहीं दिला सके और 22 रन बनाकर आउट हो गए।

6. अंपायर को फिर लगी बॉल
पांचवें टी-20 में अंपायर को एक बार फिर बॉल लगी। अंपायर को चौथे टी-20 में भी बॉल लगी थी। इस बार मैच के आखिरी ओवर में ऐसा हुआ। 20वें ओवर की पांचवीं बॉल अर्शदीप सिंह ने फुलर लेंथ फेंकी, नाथन एलिस ने सामने की ओर तेज शॉट खेला और बॉल सीधे अर्शदीप की ओर आ गई। बॉलर ने गेंद की ओर हाथ लगाया लेकिन बॉल उनके हाथ से टकराकर फील्ड अंपायर अनंत पद्मनाभन से जा लगी। हालांकि हाथ से टकराने के बाद गेंद की स्पीड कम हो गई और अंपायर को ज्यादा चोट नहीं आई।

फील्ड अंपायर को पांचवें टी-20 में भी बॉल लग गई। हालांकि उन्हें चोट नहीं आई।
फील्ड अंपायर को पांचवें टी-20 में भी बॉल लग गई। हालांकि उन्हें चोट नहीं आई।

7. अर्शदीप ने आखिरी ओवर में 9 रन डिफेंड किए
ऑस्ट्रेलिया को आखिरी 6 गेंदों पर जीत के लिए 10 रन की जरूरत थी। अर्शदीप सिंह ने कंगारू टीम के कप्तान मैथ्यू वेड को पहली गेंद बाउंसर फेंकी। अगली गेंद यॉर्कर रही, जिस पर कोई रन नहीं बना और तीसरी गेंद वेड कैच आउट हो गए। चौथी, पांचवीं और छठी गेंद पर 1-1 रन बना और ऑस्ट्रेलिया 6 रन से करीबी मुकाबला हार गया।

अर्शदीप सिंह ने अपने पहले ओवर में 14 रन दिए, लेकिन आखिरी 3 ओवर में 24 ही रन खर्चे। उन्हें बेन मैक्डरमॉट और मैथ्यू वेड के 2 अहम विकेट भी मिले।

अर्शदीप सिंह ने पारी के 20वें ओवर में 9 रन डिफेंड किए। उन्होंने 6 गेंदों पर 3 ही रन दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here