‘पठान’, ‘जवान’ और ‘गदर 2’ ने बॉलीवुड को बनाया नंबर 1, मगर पिक्चर अभी बाकि है, 2024 में साउथ देगा चुनौती

0
45

कोविड के बाद से फिल्मों के कारोबार का हाल एकदम बदल गया है। शुरुआत में लोगों को लग रहा था कि साउथ की फिल्मों का दबदबा है लेकिन फिर पठान, जवान और गदर 2 ने माहौल बदल दिया। अब देखना ये है

  • अगले साल 2024 में फिर से हिंदी फिल्मों को तगड़ी चुनौती देंगे साउथ सिनेमावाले
  • बॉलीवुड को ‘पठान’, ‘जवान’ व ‘गदर 2’ के चलते अच्छा खासा फायदा हुआ है
  • मगर अगले साल का माहौल अलग होने वाला है, पढ़िए ये खास रिपोर्ट |
  • बीते साल 2022 में जब कोविड के बाद देशभर के सिनेमा खुले, तो दर्शकों को सिनेमाघरों में वापस लाना बड़ी चुनौती था। बॉलीवुड से लेकर साउथ और हॉलीवुड तक की फिल्मों ने दर्शकों की बदली चॉइस की इस चुनौती का सामना किया। लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी बॉलीवुडवालों को उठानी पड़ी। दरअसल, बीते साल बॉलीवुड की रेकॉर्ड फिल्मों को नाकामी का मुंह देखना पड़ा। नतीजतन भारतीय सिनेमा की कुल कमाई के मामले में पहली बार बॉलीवुड का कलेक्शन तीसरे नंबर पर पहुंच गया था। जबकि अब तक बॉलीवुड पहले नंबर पर रहा करता था। लेकिन साल 2022 में RRR व दूसरी सुपरहिट फिल्मों के चलते तेलुगू सिनेमा नंबर वन तथा KFG 2 व कांतारा जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों की कामयाबी के चलते कन्नड़ सिनेमा देशभर में नंबर 4 पर पहुंच गया।

    वरना इससे पहले तक भारतीय सिनेमा इंडस्ट्री में हिंदी सिनेमा का कलैक्शन सबसे ज्यादा रहता था, लेकिन बीते साल तेलुगू सिनेमा की कमाई नंबर एक पर रही। जबकि तमिल सिनेमा कमाई के मामले में दूसरे नंबर पर रहा। वहीं हिंदी सिनेमा यानी कि बॉलीवुड का नंबर कमाई के मामले में तीसरा आया। तेलुगू फिल्मों के सुपरहिट होने के बदौलत आज प्रभास और राजामौली के बाद रामचरण, जूनियर एनटीआर और अल्लू अर्जुन देश दुनिया में मशहूर हो गए। बता दें कि भारत में हिंदी, तेलुगू, तमिल, मलयालम, कन्नड़, बांग्ला, मराठी, उड़िया, पंजाबी, गुजराती और भोजपुरी समेत कई भाषाओं में फिल्में बनती हैं। 2019 तक इनमें हिंदी सिनेमा यानी कि बॉलीवुड सबसे ऊपर था, जिसका कुल रेवेन्यू करीब 44 फीसदी था। वहीं उसके बाद तेलुगू और तमिल सिनेमा की कमाई करीब 13-13 फीसदी थी। जबकि मलयालम और कन्नड़ करीब 5-5 फीसदी कमाई के साथ चौथे और पांचवे नंबर पर थे। बाकी बची 20 फीसदी कमाई बांग्ला, मराठी, उड़िया, पंजाबी, गुजराती और भोजपुरी सिनेमा से आती है। लेकिन बीते साल 2022 में तेलुगू व अब तक हाशिए पर पड़ी कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री ने सबको चौंका दिया। इन दोनों इंडस्ट्री से एक के बाद एक हिट फिल्में सामने आईं।

    फ्लॉप फिल्मों का नया रेकॉर्ड

    दुनियाभर में भारतीय सिनेमा की पहचान माने जाने वाले बॉलीवुड के सामने बीते साल पहचान का संकट खड़ा हो गया था। दरअसल, उस दौरान दर्शकों ने बड़े सितारों की फिल्मों को भी सिरे से नकार दिया था। फिर चाहे इनमें साल 2022 में होली पर रिलीज हुई अक्षय कुमार की फिल्म बच्चन पांडे रही हो या फिर ईद पर रिलीज हुईं अजय देवगन की रनवे 34 और टाइगर श्रॉफ की हीरोपंती 2। वहीं गर्मियों की छुट्टियों के कमाऊ माने जाने वाले सीजन में रणवीर सिंह की जयेश भाई जोरदार व अक्षय कुमार की मेगा फिल्म सम्राट पृथ्वीराज जैसी फिल्मों को भी दर्शकों ने सिरे से खारिज कर दिया। वहीं जुलाई के महीने में रणबीर कपूर की श्मशेरा बॉक्स ऑफिस पर धड़ाम से गिरी, तो इंडिपेंडेंस डे वीकेंड पर आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा व अक्षय कुमार की रक्षाबंधन को भी दर्शकों ने नकार दिया। बेशक लगातार इतनी सारी फिल्मों के फ्लॉप होने से हिंदी सिनेमा से जुड़े लोगों का विश्वास हिल गया था और किसी को समझ नहीं आ रहा था कि आखिर दर्शक देखना क्या चाहते हैं।

    ये सिलसिला यहां नहीं रुका

    लेकिन फिल्मों के फ्लॉप होने का सिलसिला यहीं नहीं थमा। सितंबर के महीने में रितिक रोशन व सैफ अली खान की विक्रम वेधा फ्लॉप रही। वहीं अक्टूबर में दिवाली वीकेंड पर अक्षय कुमार की रामसेतु व अजय देवगन की थैंक गॉड को भी दर्शकों ने पसंद नहीं किया। यही नहीं क्रिसमस पर रिलीज हुई रोहित शेट्टी की रणवीर सिंह स्टारर फिल्म सर्कस भी बॉक्स ऑफिस पर धड़ाम हो गई। बात अगर बीते साल की बॉलीवुड की हिट फिल्मों की करें, तो सिर्फ ब्रह्मास्त्र, द कश्मीर फाइल्स, दृश्यम 2, भूल भुलैया 2 व गंगूबाई काठियावाड़ी जैसी चुनिंदा फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर ठीकठाक प्रदर्शन किया। इनमें भी तीन फिल्में 200 करोड़ क्लब व दो फिल्में 100 करोड़ क्लब में पहुंची। वहीं घबराए सिनेमा इंडस्ट्रीवालों ने अपनी फिल्मों को धड़ाधड़ पोस्टपोन करना शुरू कर दिया था। बीते साल से पोस्टपोन होने वाली फिल्मों में गणपत से लेकर बड़े मियां छोटे मियां, किसी का भाई किसी की जान व तमाम दूसरी फिल्मों का नाम शामिल है। दरअसल, साल 2022 में बॉलीवुड फिल्मों के लगातार फ्लॉप होने से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के निर्माताओं में भगदड़ मच गई थी। इसके चलते हरेक निर्माता अपनी फिल्म को साल 2023 में रिलीज करने की प्लानिंग करने लगा था।

    बॉलीवुड ने की जोरदार वापसी

    साल 2023 में बॉलीवुड की शुरुआत ही बेहद जबर्दस्त रही, जब रिपब्लिक डे वीकेंड पर रिलीज हुई शाहरुख खान की फिल्म पठान ने धमाकेदार अंदाज में 500 करोड़ क्लब में एंट्री करके हिंदी बॉक्स ऑफिस पर सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म का रेकॉर्ड अपने नाम कर लिया। बेशक साल 2022 में बदतर हालात में पहुंच चुके बॉलीवुड के लिए यह बहुत बड़ी खबर थी। हालांकि इसके बाद फिर से एक बार फिल्मों के फ्लॉप होने का सिलसिला शुरू हुआ। जबकि फरवरी के महीने में कार्तिक आर्यन की शहजादा व अक्षय कुमार की सेल्फी फ्लॉप रहीं। वहीं मार्च में अजय देवगन की भोला को दर्शकों को उतना खास रिस्पॉन्स नहीं मिला। जबकि अप्रैल में सलमान खान की ईद रिलीज किसी का भाई किसी की जान भी उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी। यही नहीं मई और जून के कमाई के महीनों में बॉलीवुडवालों ने कोई बड़ी फिल्म रिलीज नहीं की। वहीं प्रभास की फिल्म आदिपुरुष को दर्शकों ने सिरे से खारिज कर दिया। आधा साल बीतने के बाद लगने लगा था कि कहीं साल 2023 भी तो साल 2022 की तरह होने नहीं जा रहा था। लेकिन फिर जुलाई के आखिरी हफ्ते में रिलीज हुई रणवीर सिंह व आलिया भट्ट की फिल्म रॉकी और रानी की प्रेम कहानी ने 100 करोड़ क्लब में एंट्री की।

    खूब टूटे रिकॉर्ड

    वहीं इंडिपेंडेंस डे वीकेंड पर तो कमाई के पिछले सारे रेकॉर्ड टूट गए। इस दौरान रिलीज हुई फिल्मों सनी देओल की गदर 2 जहां 500 करोड़ क्लब में पहुंची। वहीं अक्षय कुमार की फिल्म ओएमजी ने भी 100 करोड़ क्लब में एंट्री की। खासकर फिल्म गदर 2 का तो छोटे सेंटर्स व सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों में भी खासा क्रेज नजर आया। और तो और सिनेमाघरों में ट्रैक्टर लेकर पहुंचे दर्शकों को देखना अपने आप में दिलचस्प था। अगस्त के आखिरी हफ्ते में आयुष्मान खुराना की फिल्म ड्रीम गर्ल 2 ने 100 करोड़ क्लब में एंट्री की। वहीं सितंबर में शाहरुख खान की जवान ने ब्लॉकबस्टर अंदाज में 600 क्लब में एंट्री करके कमाई के पिछले सारे रेकॉर्ड तोड़ दिए। इस तरह शाहरुख खान अकेले ऐसे ऐक्टर बन गए, जिनकी दो फिल्में एक साल में दुनियाभर में 1000 करोड़ क्लब में पहुंची हैं। इसके अलावा सितंबर के आखिर में रिलीज हुई फुकरे 3 ने भी ठीकठाक कमाई की। इससे पहले इस साल मई में फिल्म द केरल स्टोरी ने जबर्दस्त कमाई की। वहीं होली वीकेंड पर रणबीर कपूर की तू झूठी मैं मक्कार को भी दर्शकों ने पसंद किया था। यह फिल्म भी 100 करोड़ क्लब में पहुंची थी। हालांकि पिछला महीना अक्टूबर जरूर बॉक्स ऑफिस पर सूना बीता हुआ। लेकिन इससे पहले बॉलीवुड ने पठान, जवान और गदर 2 जैसी फिल्मों के बूते इंडियन फिल्म इंडस्ट्री में अपनी नंबर वन की पोजिशन सुनिश्चित कर ली है। जबकि अभी अगले महीने सलमान खान की स्पाई यूनिवर्स की फिल्म टाइगर 3 तथा दिसंबर में शाहरुख खान की डंकी, प्रभास की सालार व रणबीर कपूर की एनिमल जैसी बड़ी फिल्में बाकी हैं।

    अगले साल होगा महामुकाबला

    इस साल 2023 में भले ही बॉलीवुडवालों ने साउथ सिनेमावालों को पछाड़कर नंबर वन का खिताब हासिल कर लिया है। साउथ सिनेमा की हिट फिल्मों की बात करें, तो इस साल अभी तक सिर्फ रजनीकांत की जेलर ने ही ठीकठाक प्रदर्शन किया है। वहीं थलापति विजय की लियो और वारिसु, प्रभास की आदिपुरुष व चियान विक्रम की पोन्नियन सेल्वन 2 उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाईं। इस साल पिछले साल कमाई के मामले में नंबर वन रहे तेलुगू सिनेमा की कोई फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कमाल नहीं कर पाई। वहीं बीते साल चौंकाने वाले कन्नड़ सिनेमा की किसी फिल्म ने भी साल 2023 में कोई खास प्रदर्शन नहीं किया। हालांकि फिल्मी दुनिया के जानकार मानते हैं कि अगले साल यानी कि 2024 में बॉलीवुडवालों को साउथ सिनेमा इंडस्ट्री से तगड़ी चुनौती मिलने वाली है। इसकी शुरुआत इसी साल के आखिर में होने वाली है। जब क्रिसमस वीकेंड पर शाहरुख खान की डंकी को प्रभास की सालार से चुनौती मिलेगी। बेशक यह मुकाबला इसलिए भी दिलचस्प होने वाला है, क्योंकि प्रभास की फिल्म के डायरेक्टर केजीएफ फेम प्रशांत नील हैं। वहीं शाहरुख की फिल्म को सुपरहिट डायरेक्टर राजकुमार हिरानी ने डायरेक्ट किया है।

    साउथवाले बॉलीवुड को तगड़ी चुनौती देने की तैयारी कर रहे

    इसके अलावा अगले साल तमाम बड़ी रिलीज डेट पर साउथ सिनेमावाले बॉलीवुड को तगड़ी चुनौती देने की तैयारी कर रहे हैं। मसलन रिपब्लिक डे पर रिलीज होने वाली रितिक रोशन की फिल्म फाइटर के अपोजिट तमिल सुपरस्टार चियान विक्रम ने अपनी पैन इंडिया फिल्म थंगालान घोषित की है। वहीं मलयालम सुपरस्टार मोहनलाल की फिल्म भी इसी वीकेंड पर रिलीज होगी। इसके बाद ईद वीकेंड पर बॉलीवुड की महत्वाकांक्षी फिल्म बड़े मियां छोटे मियां रिलीज होगी। इस फिल्म में अक्षय कुमार व टाइगर श्रॉफ लीड रोल में हैं। वहीं उनके अपोजिट तेलुगू सुपरस्टार जूनियर एनटीआर की फिल्म देवरा रिलीज होगी। इस फिल्म में सैफ अली खान विलेन व जाह्नवी कपूर लीड ऐक्ट्रेस के रोल में हैं। जबकि इंडिपेंडेंस डे वीकेंड पर अल्लू अर्जुन की सुपरहिट फिल्म पुष्पा की सीक्वल पुष्पा 2 का मुकाबला अजय देवगन की सुपरहिट सिंघम 3 से होगा।

    अगले साल क्या होने वाला है

    इनके अलावा अगले साल कमल हासन की सुपरहिट फिल्म इंडियन की सीक्वल इंडियन 2, ऋषभ शेट्टी की सुपरहिट फिल्म कांतारा की सीक्वल कांतारा 2, रामचरण और कियारा आडवाणी स्टारर फिल्म गेम चेंजर व प्रभास की कल्कि जैसी कई और पैन इंडिया फिल्में रिलीज होंगी। बेशक इनके चलते बॉलीवुडवालों को काफी कड़ी चुनौती मिलने वाली है। हालांकि अगले साल बॉलीवुडवाले भी अच्छे लाइनअप के साथ साउथ सिनेमा को चुनौती देने की तैयारी में हैं। इनमें दिवाली पर अक्षय कुमार की हाउसफुल 5 के अलावा क्रिसमस वीकेंड पर उनकी फिल्म वेलकम टु द जंगल भी शामिल है। हालांकि अभी तक अगले साल के लिए शाहरुख खान व सलमान खान की किसी फिल्म की घोषणा नहीं हुई है। लेकिन आमिर खान ने जरूर क्रिसमस वीकेंड को अपने लिए ब्लॉक कर लिया है। ऐसे में, यह देखना दिलचस्प होगा कि बीते साल के टॉपर तेलुगू सिनेमा को इस साल पछाड़कर अपनी नंबर वन की पोजिशन वापस छीनने वाला बॉलीवुड क्या अगले साल भी इसे बरकरार रख पाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here